ये जिन्दगी बनाने वाले

ये जिन्दगी बनाने वाले मेरी कैसी जिन्दगी बनाई है,
खुशियाँ बहुत थोड़े कम गम हि गम से सजाई है,
आज तक जो गुजरी बे गवार गुजरी तू सुन ले
कुछ दिया नहीं मुझे, बस खून के आंसू रुलाई है..