Intezar Shayari

वो है जो हमसे नजरें फेर के बैठे है

Post Copied
Image Downloading... Shayari in Hindi Download Image

वो है जो हमसे नजरें फेर के बैठे है,
ना जाने क्यों वो ऐसे इतने देर से बैठे है,
काश देख पते मेरी बेताबी को,
की हम उनके दीदार को कितने शामों सेहर से बैठे है।