उम्र छोटी है तो क्या


उम्र छोटी है तो क्या, ज़िंदगी का हरेक मंज़र देखा है
फरेबी मुस्कुराहटें देखी हैं, बगल में खंजर देखा है.

दोस्तों जब हम किसी को सिद्दत से चाहते है ना तो,तो उसी सिद्दत से दर्द भी मिलता है ,और उस दर्द को मिटाने में सालो गुजर जाते है ,लेकिन जख्म का निशान हमेशा रह जता है,आप लोगो ने अपनी जिन्दगी में बहोत आइसे मंजर देखे होंगे,जो आपके दिल के करीब ,आ के ,हमारे साथ प्यार का नाटक करके चले जाते है ,और हम उसे समझ नहीं पाते हम उसी के खाबो खयालो में खो रहते है ,और कब ना इस प्यार को मझक बना कर चली जाती है इस तरह के लड़कियों के भोली मुशकान में खो जाते है की उसकी फरेबी चहेरा हमे दिखाई नहीं देती ,हम इसी धोखे में रहते है , की वो हमे बहुत चाहती है।