तेरा साथ अब किसी किस्से सा

तेरा साथ अब किसी किस्से सा लगता है.
बीते पुराने पलों के हिस्से सा लगता है.
रुक जाना नहीं चाहता अब मैं तेरे शहर में..
यहाँ से टूटा मेरा हर रिश्ता सा लगता है…