सिखते वही हैं जो दुनिया से घुटे हों

सिखते वही हैं जो दुनिया से घुटे हों
अपनी किस्मत की कहानी आँशु से लिखे हों,
जलते हैं जो उनकी कामयाबी से आज,
पता नहीं वो कितने दर्द से अपनी कहानी लिखे हों