शीशे में डूब कर

शीशे में डूब कर पीते रहे उस जाम को,
कोशिशे की बहुत मगर भुला न पाए तेरे नाम को.

दोस्तों कोई जब प्यार में धोखा खाता है ना ,तो उसे भुलाने के लिए आशिक हमेशा मैयखाने का रास्ता देखता है.ये है मोहब्बत ,क्युकी प्यार में धोखा खाये इन्शान बड़ी मुश्किल में ,जिन्दगी जीना सीखता है और उसे भूलने की कोशिश करता है ,पर उसे भूल नहीं पता ..

कोई कितना भी कोशिश करले अपने प्यार की याद हमेशा उसका पीछा करता है ,चाहे वो बेवफा हि क्यूँ ना हो पर हमने तो वफ़ा की थी चाहत के सामने बहुत रागिन होते है दोस्तों ,और जब टूटता है तो और भी रंगीन दिखाई देता है ,वो है तडप और खून के आंशु और सच्ची मोहब्बत को भूलना इतना आसान भी नहीं होता ,जितना भूलने की कोशिश करो और भी याद आते है …