रब का मैं करता हु शुक्रिया

रब का मैं करता हु शुक्रिया जो तुमको मुझे मिला दिया,
आवारा था मैं पहले जिसे मोहब्बत का जाम पिला दिया,
अजीब सी दर्द होती हैं इस छोटी सी धड़कन में क्यों,
खुशियों की तुम परी जिसने खुशियाँ हि खुशियाँ दिला दिया,