मोहब्बत की भीख

मोहब्बत की भीख अब तुझसे ना मांगुगा,
मेरे किमती आंसू तेरे लिये ना गिराउगा,
भले मै पहले नादान था, अब समझा हूँ,
अरे अब तो तेरे सभी यादें दिल से मिटाउगा।