मेरी खामोशियों में

मेरी खामोशियों में भी फसाना ढूँढ लेती है,
बड़ी शातिर है दुनिया मजा लेने का बहाना ढ़ूँढ लेती है।

दोस्तों ये दुनिया जैसे हम सोचते है वैसा नहीं है ,जितना प्यार है ना उससे कही जादा नफरत ,यहाँ प्यार का मोल नहीं समझते किसी को प्यार दो ,तो उससे प्यार का हम उम्मीद रखते है ,तो वो हमें बेवफाई और नफरत देते है ,आखिर ऐसा क्यों है दोस्तों वफ़ा का मतलब बेवफाई हि मिलती चाहे वो प्ररिवार हो या अपना प्यार दोस्तों आज मै अपनी बात कह रहा हूँ ,जिससे जितना प्यार करते है ,वो हमें उतना नफरत ,इन्ही दर्द को छुपाने के लिए इस दुनिया से दूर जाता हु तो ये लोग मेरी जख्म कुरेदने मेरी पीछे पिछे आते है .बड़ी बेगैरत है ये दुनिया ,किसी को दर्द बातो तो हंसी बाटते है वो भी ,किसी ,किस तरह का ये भी जान लो ,दोस्तों किसी का दर्द का किसी के लिए सिर्फ मजाक बन जाता है और ,तुम्हारे दर्द को कुरेद कर तुम्हारी अहह का मजा लेते है .