महाकाल पर हिंदी शायरी

मृत्यु का भय उनको है जिनके कर्मों मे दाग है,
हम महाकाल के भक्त है, हमारे खून में भी आग है!!

दोस्तों हम सभी जानते है की महाकाल जी कौन है महाकाल जी उजैन के राजा है जो कहते है वहा सती की कुछ अंग वहा पर गीरी थी यहाँ २१ शिव लिंग्गो में से एक है महाराज शिव के करोड़ो करोड़ो दीवाने है ,महाकाल जी महाराज अपने अंग्गो में भभूत लगते है..

महाकाल जी का हमारे युवाओ में में भी बड़ी भक्ति है साथ हि ये ये इन्हें बड़ी ये मान लीजिये की महाकाल कहते है शरीर में एक ऐसी ताकत का संचार हो जाता है की इनके सामने दुनिया की कोई ताकत टिक नहीं सकती है बड़ी जूनून है इसमें दोस्तों …