लिख दूँ तो लफज़ तुम हो

लिख दूँ तो लफज़ तुम हो,
सोच लूँ तो ख्याल तुम हो,
माँग लूँ तो मन्नत तुम हो
और चाह लूँ तो मोहब्बत भी तुम ही हो।