खामोश मोहब्बत

Love Shayari - Khamosh Mohabbat

खामोश मोहब्बत का एहसास है वो,
मेरे ख्वाहिश मेरे जज़्बात है वो,
अक्सर ये ख्याल क्यूँ आता है दिल में,
मेरी पहली और आखिरी तलाश है वो।

Trending Shayari

#Love Shayari

आँखों मे ख्वाब दिया करते हैं, हम सबकी नींद चुरा लिया करते हैं, अब से जब-जब आपकी पलकें झुकेंगी, समझ लेना हम अपको याद किया करते हैं।

#Sad Shayari

सदीयो से जागी आँखो को, एक बार सुलाने आ जाओ, माना की तुमको प्यार नहीं, नफरत ही जताने आ जाओ जिस मोड पे हमको छोङ गये, हम बैठे अब तक सोच रहे क्या भुल हुई क्यों जुदा हुए, बस यह समझाने आ जाओ!

#Narazgi Shayari

ऐसी नाराजगी हमसे की हम मना ना सके, बस गयी मेरे दिल मे वैसी वो, की हम भुला ना सके, बस दर्द है, तो इस बात की, कितनी मोहब्बत थी इस दिल मे, हम बता ना सके।

#Friendship Shayari

किस हद तक जाना है ये कौन जानता है, किस मंजिल को पाना है ये कौन जानता है, दोस्ती के दो पल जी भर के जी लो, किस रोज़ बिछड जाना है ये कौन जानता है.!

#Hindi Shayari

तेरी कुछ बात ही अलग है, वरना मै अपने आप से भी कम ही मिलता हूँ।

More Posts