गुलाब खिलते रहें ज़िंदगी की राहों में

गुलाब खिलते रहें ज़िंदगी की राहों में,
हंसी चमकती रहे आपकी निगाहों में,
खुसियाँ ही मिलें हर कदम पर अपको,
निकलती है मेरे दिल से बस यही दुआ अपको।