दोपहर हिंदी शायरी

बनाने वाले ने भी तुझे किसी कारण से बनाया होगा,
छोड़ा होगा जब ज़मीन पर तुझे ,
उसके सीने में भी दर्द तो आया होगा..

गुड आफ्टर नून दोस्तों दोस्तों जब हम किसी को को दुआ या तारीफ करते है किसी अपने को तो दिल आवाज हि समझलो वही होता है क्यों दोस्तों हं कुछ लोग होते है जो इस सब को समझ समझ कर भी सामने लाते है लेकिन जादा दिल से हि निकल है क्यों दोस्तों .

एक तारीफ इसमें में देख लो की बनाने वाले नेभी क्या है खैर तारीफ करने का अपने अपने तरीके है ..