दुर्गा भी है और काली भी है

दुर्गा भी है और काली भी है, शीतल छाँव है खड़ी धूप भी,
देवी माँ वो आदी शक्ति है, सौम्य भी है और रौद्र रूप भी।