दुआ हिंदी शायरी

हंसी आपकी कोई चुरा ना पाये ,
आपको कभी कोई रुला ना पाये
खुशियों का दीप ऐसे जले जिन्दगी में,
की कोई तूफान भी उसे बुझा ना पाये..

दोस्तों नमस्कार कैसे है ,दोस्तों हम जो भी चाहते है आप सबकी ख़ुशी चाहते है भगवान् करे हमारी दुआ कुबूल हो और आप सब हमेशा खुश रहे जिन्दगी में चाहे कितनी भी परेशानी आये आप कभी भी मजिल की रहा ना भटके आगे बढे.

किसी भी हाल में आपकी हसी कम ना हो गमो के चाहे कितने भी घने बादल आये ये कभी आपको छू भी ना पाये आपके जिन्दगी में खुशियाँ इस रहे जैसे मंदिर में भगवान् का दीप जलता है यही दुआ आप सब खुश रहे …