देश के लिये कुछ भी लिखना खुशनसीबी है

desh ke liye kuch bhi likhna

देश के लिये कुछ भी लिखना खुशनसीबी है,
देश के लिये लिखना ही आत्मा से सच्ची प्रीत है,
देशभक्ति सारे मानवीय भावों से ऊपर है,
India, Hindustan, Bharat ये हम सबसे ऊपर है।

Trending Shayari

#Love Shayari

आँखों मे ख्वाब दिया करते हैं, हम सबकी नींद चुरा लिया करते हैं, अब से जब-जब आपकी पलकें झुकेंगी, समझ लेना हम अपको याद किया करते हैं।

#Sad Shayari

सदीयो से जागी आँखो को, एक बार सुलाने आ जाओ, माना की तुमको प्यार नहीं, नफरत ही जताने आ जाओ जिस मोड पे हमको छोङ गये, हम बैठे अब तक सोच रहे क्या भुल हुई क्यों जुदा हुए, बस यह समझाने आ जाओ!

#Narazgi Shayari

ऐसी नाराजगी हमसे की हम मना ना सके, बस गयी मेरे दिल मे वैसी वो, की हम भुला ना सके, बस दर्द है, तो इस बात की, कितनी मोहब्बत थी इस दिल मे, हम बता ना सके।

More Posts