Bewafa Shayari

[25+] Bewafa Shayari | Bewafa Shayari Photo in Hindi

Post Copied
Image Downloading... Shayari in Hindi Download Image

BEWAFA SHAYARI उन प्यार करने वालों के लिए है जिनको कभी ना कभी प्यार मे बेवफाई मिली है। हालांकि उस समय ये जान पना मुश्किल था, की उनकी बेवफाई का कारण क्या रहा होगा। लेकिन बेवफाई से जो दिल पे गुजरती है उसका अंदाजा तो वही लगा सकते है जो इस दौर से गुजरे हो।

वो दर्द, उनकी बेतहाशा यादें, बदहोशी, और बहुत कुछ सहना पड़ता है। पेश है कुछ दिल को छु लेने बेवफा शायरी, महसूस कीजीए उस पल को जिसमे आप दुनिया की सबसे तकलीफ समय से अपने आप को सम्हाले है। और बायाँ कीजीये अपने तकलीफों को उनसे, जिसने आपके साथ बेवफाई की हो, इस बेवफा शायरी के साथ।

Bewafa Shayari In Hindi

bewafa shayari- tute huye pyale me jam nahi aata

टूटे हुये प्याले में जाम नहीं आता,
इश्क में मरीज को आराम नहीं आता,
ऐ BEWAFA दिल तोड़ने से पहले ये SOCH लिया होता,
की टूटा हुआ दिल किसी के काम नहीं आता।

हाले-दिल उन्हें सुनाने गए थे,
उन्हें बेहाल छोड़ चले आये।
हमें उनसे, उन्हें किसी और से इश्क था,
दिल खुद का तोड़ चले आये।

by Ravindar Sudan

मेरी वफा की कदर ना की,
अपनी पसंद पे तो ऐतबार किया होता,
सुना है वो उसकी भी ना हुई,
मुझे छोड दिया था उसे तो अपना लिया होता।

तेरी बेवफाई को भुला ना सकेगें,
चाहे भी तो कभी मुस्कुरा ना सकेगें,
तुझ को तो मिल गया यार अपना..
अपना किसी को हम बना ना सकेगें।

गम इस बात का नही कि तुम BEWAFA निकली
मगर अफसोस ये है कि,
वो सब लोग सच निकले,
जिनसे मैं तेरे लिए लड़ा करता था.!!

ना जाने क्यूँ आते हैं,
ZINDAGI मे ऐसे लोग,
WAFA कर नहीं सकते पर,
WADE हजार करते हैं।

जिस BEWAFA पे हम जान लुटाते हैं,
इजहार मुझसे करके,
ISHQ किसी और से FARMATE है ।

ना जाने मेरी MAUT कैसी होगी,
पर ये तो तय है की,
तेरी BEWAFAI से तो,
BEHTAR होगी।

Bewafa Shayari Hindi

bewafa shayari in hindi- raat ki gahrai

रात की गहराई आँखों में उतर आई,
कुछ ख्वाब थे और कुछ मेरी तन्हाई,
ये जो पलकों से बह रहे हैं HALKE HALKE,
कुछ तो मजबूरी थी कुछ तेरी BEWAFAI.

लगे हैं इल्जाम दिल पे जो मुझको रुलाते हैं,
किसी की BERUKHI और किसी और को SATATE हैं,
दिल तोड़ के मेरा वो बड़ी आसानी से कह गये ALWIDA,
लेकिन हालात मुझे BEWAFA ठहराते हैं।

हम तो तेरे दिल की महफिल सजाने आये थे,
तेरी कसम तुझे अपना बनाने आये थे,
किस बात की सजा दी तूने हमको,
बेवफा हम तो तेरे DARD को अपनाने आये थे।

टूटे हुए DIL ने भी उसके लिए दुआ मांगी,
मेरी साँसों ने हर पल उसकी खुशी मांगी..
न जाने कैसी दिल्लगी थी उस बेवफा से,
के मैंने आखिरी ख्वाहिश में भी उसकी WAFA मांगी

मुक्कमल हो नहीं पाती कभी,
तालीमें MOHABBAT,
यहाँ USTAD भी ताउम्र,
SAGIRD हुआ करता है..॥

पता नहीं कौन सा RISTA है, तुमसे
WAJAH कोई भी हो,
YAAD तुम्हारी ही आती है ।

Bewafa Shayari Photo

bewafa shayari photo-teri bewafai ka kissa

तेरी बेवफाई का किस्सा जब-जब याद आयेगा,
मेरे तन बदन में एक आग सी भड़कायेगा,
जो तूने किया कोई दुश्मन भी नहीं ऐसा करता,
देख लेना एक दिन तू भी बहुत पछतायेगा

हसीनों ने हसीन बनकर गुनाह किया,
औरों को तो क्या, हमको भी तबाह किया,
पेश किया जब गजलों मे हमने उनकी बेवफाई को,
औरों ने तो क्या उन्होंने भी वाह-वाह किया।

चाँद तारे जमीन पर लाने की जिद थी,
हमें उनको अपना बनाने की जिद थी,
अच्छा हुआ वो पहले ही हो गई BEWAFA ,
वरना उन्हे पाने को जमाना जलाने की जिद थी।

हम तो जल गये उसकी मोहब्बत में
मोम की तरह,
अगर फिर भी वो हमें बेवफा कहे
तो उसकी वफा को सलाम..

चाहा था जिसे उसे भुलाया ना गया,
जख्म दिल का लोगों से छुपाया ना गया,
BEWAFAI के बाद भी इतना प्यार करता है दिल उनसे,
की BEWAFAI का इल्जाम भी उस पर लगाया ना गया।

यूं सामने आकर आप,
BAITHA ना कीजीये,
SABRA तो SABRA ही है,
हर बार नहीं होता।

WAFA और TUM, खयाल ACHHA है,
BEWAFA और HUM, इल्जाम ACHHA है।

Shayari Bewafa

Shayari Bewafa- Itni Bedardi Se Dil Ko Mere

इतनी बेदर्दी से दिल को मेरे वो तोड़ देगी,
यह मालूम ना था मुझे, अकेला वो छोड़ देगी,
ये मेरे मासूम दिल तू तनहाई से प्यार कर ले,
बेवफा भी अब वफा का साथ छोड़ देगी।

काश की हम उनके दिल पे राज करते,
जो कल था वही प्यार आज करते,
हमे गम नहीं उनकी बेवफाई का,
बस ARMAN था की हम भी अपने प्यार पे नाज करते।

हमनें अपनी साँसों पर उनका नाम लिख लिया,
नहीं जानते थे कि हमनें कुछ गलत किया,
वो प्यार का वादा करके हमसे मुकर गए,
खैर उनकी बेवफाई से हमनें कुछ तो सबक लिया!

आज अचानक तेरी याद ने मुझे रुला दिया,
क्या करूँ तुमने जो मुझे भुला दिया,
ना करती वफा ना मिलती ये सजा,
शायद मेरी वफाओं ने ही तुझे बेवफा बना दिया।

सोचा ही नहीं था की ZINDAGI मे,
ऐसा भी FASANE होंगे,
RONA भी JARURI होगा और,
आंसू भी CHHUPANE होंगे।

ना कोई HAMDARD था,
ना ही कोई DARD था,
फिर एक HAMDARD मिला,
उसी से सारा DARD मिला..॥

बेवफा शायरी को पढ़ने के लिए धान्यवाद दोस्तों ! ये बेवफा शायरी कुछ चुनिंदा प्यार मे बेवफाई को झेले हुए शेयरों से लिया गया है । शायरी पांडा उन समस्त शायरों का सुक्रियादा करता है जिनकी वजह से हम आज बेवफाई का दर्द बायाँ कर सकते है, शायरी के माध्यम से। किसी भी शायार या सज्जन व्यक्ति को उपरोक्त कोई भी शायरी इस पोस्ट से हटाना हो तो हमे Contact Form के माध्यम से संपर्क करके हटा सकते है, कारण उचित होने पर जल्द से जल्द यंहा से हटा दिया जाएगा। धान्यवाद !