अरे कोहरे तो बहोत देखे होंगे आसमानों मे,

अरे कोहरे तो बहोत देखे होंगे आसमानों मे,
मगर हमारा वो नहीं जो धुये की तरह उड जाये॥